Breaking News


 

पीएम मोदी ने केजरीवाल पर साधा निशाना,चोर के बाद दिल्ली CM को बताया डाकू!

 


नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, जो शराब घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में 21 दिनों की अंतरिम जमानत पर बाहर हैं, ने जेल से बाहर आते ही चुनाव प्रचार में पूरी ताकत झोंक दी है। उन्होंने विभिन्न राज्यों में जाकर इंडिया गठबंधन में शामिल पार्टियों के साथ जनसभाएं कीं और कई मीडिया चैनलों से खास बातचीत भी की।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस पर तीखा प्रहार करते हुए कहा कि जिन पर गंभीर आरोप हैं, उन्हें सार्वजनिक तौर पर महिमामंडित किया जा रहा है। एक मीडिया चैनल से बातचीत में पीएम मोदी ने सवाल उठाया कि गंभीर आरोपों का सामना करने वाला व्यक्ति कैसे मीडिया इंटरव्यू दे सकता है। उन्होंने कहा, "पहले के जमाने में डाकुओं का महिमामंडन होता था, और दुर्भाग्यवश अब राजनेताओं को भी वही लाभ मिल रहा है।"


चार्ल्स शोभराज का उदाहरण

पीएम मोदी ने चार्ल्स शोभराज का उदाहरण देते हुए कहा कि जैसे पहले उसके इंटरव्यू होते थे, वैसे ही अब भ्रष्टाचार के आरोपी नेताओं का भी इंटरव्यू लिया जा रहा है। उन्होंने इसे समाज के पतन की निशानी बताते हुए कहा, "यह चिंताजनक है कि जिन पर गंभीर आरोप लगे हैं, उन्हें कंधे पर उठाकर नाचा जा रहा है।"


अनुभवी चोर से तुलना

इसके अलावा, पीएम मोदी ने केजरीवाल की तुलना एक अनुभवी चोर से की। उन्होंने कहा, "केजरीवाल एक पूर्व अफसर हैं और उन्हें सरकारी कामकाज की पूरी जानकारी है। वे जानते हैं कि सीबीआई और ईडी कैसे काम करती हैं और घेराबंदी से कैसे बचा जा सकता है। यह सुविधा अनुभवी चोरों के पास होती है।"


केजरीवाल का पलटवार

केजरीवाल ने पीएम मोदी के बयान को अपने पक्ष में मोड़ते हुए कहा, "पीएम मोदी ने स्वीकार किया है कि मेरे खिलाफ उनके पास कोई सबूत नहीं है और यह घोटाला फर्जी है। उन्होंने कहा कि मोदी ने मान लिया कि सबूत इसलिए नहीं मिले क्योंकि मैं 'अनुभवी चोर' हूं। इसका मतलब है कि पूरे देश के सामने उन्होंने स्वीकार कर लिया कि घोटाले के आरोप बेबुनियाद हैं।"


इस राजनीतिक टकराव ने आगामी चुनावों में माहौल को और गरमा दिया है, जहां आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है।